Computer kya hai – बेसिक जानकारी हिंदी में

नमस्कार दोस्तों officialtechs.com  आपका स्वागत है
आपने Computer शब्द सुना होगा और आज के समय में Computer लोगो की ज़िंदगी का एक हिस्सा बन चुके है पर अभी Computer  के  बहुत सी ऐसी बाते है कजो आपको जाना जरुरी है आज हम आपको Computer बारे कई बाते बतायंगे जैसे की Computer  क्या है Computer  शब्द का अर्थ क्या है , Computer की कितनी पीढ़ी है ?
Computer क्या है – बेसिक जानकारी हिंदी में
Computer क्या है – बेसिक जानकारी हिंदी में

Computer क्या है 

Computer एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण ( Device ) है जिसको डेटा और सूचनाओं को स्टोर ककरने और प्रोसेस करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है 

Computer की फुल फॉर्म क्या है  What is Full form Of Computer

C - Commonly
O- Operated
M- Machine
P- particularly
U- Used for
T- Training
E-Education
R- Research

हम Computer से क्या कार्य करते है ?

 हम Computer  के द्वारा कई मीलो दूर रहने वाले लोगो से जोड़ सकते है Computer में हम अपनी सूचनाओं और डेटा को स्टोर कर सकते है Computer  से हम और भी कार्य कर सकते है जैसे :- Online टिकट बुक करना। net banking उपयोग करना , मूवी देखना , गेमिंग करना और भी बहुत से ऐसे काम है जो हम Computer कके द्वारा कर सकते है। 

Computer के कितने भाग होते है 

Computer के दो भाग होते है Hardware, Software 


  1. Hardware = Cabinet Case, Motherboard, Ram, Hard Disk, Cpu, SMPS 
  2. Software = Video Editing Software, Windows, Microsoft, PowerPoint, Microsoft Excel, Micro Word,
Also, Read

कंप्यूटर के अवयय  ( Computer Components )

Computer के विभिन्न अवयय होता है 


  • इनपुट उपकरण 
  • प्रोसेसिंग उपकरण 
  • आउटपुट उपकरण 

इनपुट उपकरण - Input Device

ये उपकरण वो होते है जिनका उपयोग Computer  में डेटा , इंफोमशन , को डालने के लिए किया जाता है इन्हे उपकरण डिवाइस को कहते है Exp :- माउस ,कीबोर्ड ,पेन ड्राइव , सीडी , माइक्रोफोन ,जोस्टिक और स्कैनर आदि , कीबोर्ड और माउस Computer  के प्राथिमक इनपुट उपकरण है। 

प्रोसेसिंग उपकरण - Processing Device

प्रोसेसिंग उपकरण किसी Computer में सूचना या डेटा के स्टोरेज और सेविंग को नियंत्रित करते है सूचना Computer  के प्रॉससेर सीपीयू के दूर प्रॉससे की जाती है जिसके बाद Computer  के मेमोरी में डेटा सेव होता है। 

आउटपुट उपकरण - Output Device 

ऐसे उपकरण जिनका उपयोग Computer में परिणामो को प्रदर्शित करने के लिए किये जाता है आउटपुट डिवाइस कहलाते है जैसे की :- मॉनिटर , पिंटर , स्पीकर , हेडफोन और प्रोजेक्टर है 

Computer की पीढ़िया

प्रथम पीढ़ी ( 1942 - 1956 )

प्रथम पीढ़ी के Computer  के मुख्य इलेट्रॉनिक घटक में वैक्यूम ट्यूब ( Vacuum Tube ) एवं डेटा भंडारण ( Data Storage ) के लिए मैग्नेटिक ड्रम का इस्तेमाल किया गया। अगर हम Vacuum tubes की बात करे तो ये उस समय की मेमोरी और सीपीयू के basic Componetns थे ये Componetns बहुत जल्दी गर्म हो जाते थे जिसकी वजह से Computer भी गर्म हो जाते थे
इस पीढ़ी के Computer  का वजन लगभग 30 टन था अगर इसके आकार की बा करे तो ये 50 * 30  के कमरे जैसा था
 इस Computer  में 18000 Vacuum Tubes का इस्तेमाल किया गया था इस पीढ़ी के Computer   को ऑपरेट करने के लिए मशीन भाषा ( Machine Language ) का इस्तेमाल किया जाता था

प्रथम पीढ़ी में कई कम्पूटरो का निर्माण हुआ जैसे की :-
  • ENIAC
  • EDVAC
  • EDSAC
  • UNIAC-1
  • IBM-701

ENIAC

ENIAC ( Electronic Numericel integrator and Computer ) ये कंप्यूटर वर्ल्ड का सबसे पहला इलेक्ट्रॉनिक कंप्यूटर था
ENIAC कंप्यूटर का अविष्कार अमेरिका की पेंसिल्वेनिया विश्वविद्यालय के जॉन मचली और जे.प्रेस्पर एक्ट  गया था


EDVAC

EDVAC ( Electronic Discrete Variable Automatic Computer ) इसे 1945 में EDVAC के सलाहकार हंगरी के जॉन बॉन न्यूमेन की संग्रहित अनुदेश संकल्पना ( Stored Program Concept ) के आधार पर बनाया गया। 


EDSAC

EDSAC ( Electronic Dealy Storage Automatic Computer )EDSAC के कंप्यूटर का निर्माण कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय में मई 1949 में किया गया। 


UNIVAC-1 

UNIVAC-1 ( Universal Automatic Computer ) UNIVAC-1 कंप्यूटर के आकर बहुत बड़े होते थे और इनकी गणना Milli seconds में की जाती थी


दूसरी पीढ़ी ( 1956 - 1965 )

दूसरी पीढ़ी ( Second Generation ) के कंप्यूटर में इलेक्ट्रॉनिक घटक ( Eletronic Component )  इस्तेमाल किया गया था
Second generation के computers में transistors ने vaccum tubes की जगह ले ली. Transistor बहुत ही कम जगह लेते थे, छोटे थे, faster थे, सस्ते थे और ज्यादा Energy Efficient थे. ये पहले generation के कंप्यूटर की तुलना में कम heat generate करते थे लेकिन फिर भी इसमें heat की समस्या अभी भी थी.
इलेक्ट्रिसिटी की बात करे तो इस कम्पूटरो में कम से कम इस्तेमाल होती थी
इनमे High Level programming Language जैसे COBOL और FORTRAN को इस्तमाल में लाया गया था.


तीसरी पीढ़ी  ( 1965 - 1975 )

तीसरी पीढ़ी ( Third generation ) के कंप्यूटर में ट्रांजिस्टर ( Transistor ) के स्थन पर  Integrated Circuit का इस्तमाल किया गया था. जिसमे Transistors को छोटे छोटे कर silicon chip के अन्दर डाला जाता था
जिसके कारण कंप्यूटर के आकार को और भी अधिक छोटा बनाया गया।
जिसे Semi Conductor कहा जाता है. इससे ये फ़ायदा हुआ की कंप्यूटर की processing करने की क्षमता काफी हद तक बढ़ गयी।  इसी पीढ़ी में MICR , Plotters Scanners का अविष्कार किया गया था।

पहली बार इस generation के computers को ज्यादा user friendly बनाने के लिए Monitors, keyboards और Operating System का इस्तमाल किया गया. इसे पहली बार Market में launch किया गया.



चौथी पीढ़ी ( 1975 - 1989 )

चौथी पीढ़ी  में माइक्रोप्रोसेसर ( Microprocessor ) की शुरुवात हुई जिनमे हजारो आईसी  एकल चिप पर निर्मित की जा सकती थी
इस  कंप्यूटर में Storage Device को कंप्यूटर में ही समाहित कर दिया गया जिससे कंप्यूटर का आकार बहुत ही कम हो गया और इसी कारण ये एक Personal Computer बना गए ओट सभी के घरो में पूछ पाए
इस पीढ़ी में नयी उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषाओ  ( High Level Language ) के रूप में C , C++, DBASE ( डेटाबेस ) का इस्तेमाल किया गया।


कंप्यूटर की पांचवीं पीढ़ी – 1989 -present “Artificial Intelligence”

Fifth generation आज के दोर का है जहाँ की Artificial Intelligence ने अपना दबदबा कायम कर लिया है. अब नयी नयी Technology जैसे Speech recognition, Parallel Processing, Quantum Calculation जैसे कई advanced तकनीक इस्तमाल में आने लगे हैं.

उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषाओ में JAVA, VBऔर .NET की शुरुवात इस पीढ़ी में हुई

ये एक ऐसा generation हैं जहाँ की कंप्यूटर की Artificial Intelligence होने के कारण स्वयं decision लेने की क्ष्य्मता आ चुकी है. धीरे धीरे इसके सारे काम Automated हो जायेंगे.

इस पीढ़ी  में प्रतिदिन कंप्यूटर के आकार को घटाने का प्रयास किया कजा रहा है जिसके फलस्वरूप हम घडी के आकार में भी कंप्यूटर को देख सकते है

पांचवीं पीढ़ी में कई कम्पूटरो का निर्माण हुआ जिनके नाम है -


  • IBM
  • Note bookPARAM
  • Pentium
  • PARAM
अब तक आपको कंप्यूटर का introduction हिंदी में मिल चूका होगा. मुझे पूर्ण आशा है की मैंने आप लोगों को कंप्यूटर क्या है (What is Computer in Hindi)और कंप्यूटर के प्रकार के बारे में पूरी जानकारी दी और आशा करता हूँ आप लोगों को इस कंप्यूटर Technology के बारे में समझ आ गया होगा.

Thanks... 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां